Tuesday , February 7 2023

UP Elections 2022: यूपी में पांचवें चरण तक 292 सीटोंं पर मतदान, अब फोकस पूर्वांचल पर

लखनऊ. UP Elections 2022– यूपी विधानसभा चुनाव के पांचवें चरण में 12 जिलों 61 विधानसभा सीटों पर 57.32 फीसदी मतदान हुआ है। 2017 में बीजेपी ने इस चरण की 61 में 47 सीटें जीती थीं जबकि सहयोगी अपना दल ने 03 सीटें जीती थीं। इसके अलावा बसपा को 05, सपा को 03 और कांग्रेस को 01 सीट मिली थी। 403 विधानसभा सीटों वाले उत्तर प्रदेश में अब तक पांच चरणों में 292 विधानसभा सीटों पर मतदान हो चुका है। अब सिर्फ पूर्वांचल की 111 सीटों पर वोटिंग बाकी है। इनमें छठे चरण में 57 और सातवें चरण में 54 सीटों पर मतदान होगा। चुनाव परिणाम 10 मार्च को आएगा। 2017 के विधानसभा चुनाव में बीजेपी ने अकेले दम पर 312 सीटें जीती थीं। सहयोगी पार्टी अपना दल को 09 और सुभासपा को 04 सीटें मिली थीं। सपा को 47, बसपा को 19 और कांग्रेस को 07 सीटों पर जीत मिली थीं। बता दें कि 2017 में सपा और कांग्रेस ने मिलकर विधानसभा चुनाव लड़ा था।

योगी के डिप्टी सहित छह मंत्रियों की प्रतिष्ठा दांव पर
पांचवें चरण में उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य समेत योगी आदित्यनाथ कैबिनेट के 6 मंत्री चुनाव मैदान में हैं। केशव प्रसाद मौर्य जहां कौशांबी के सिराथू से चुनाव मैदान में हैं वहीं, कैबिनेट मंत्री राजेंद्र प्रताप सिंह उर्फ मोती सिंह प्रतापगढ़ की पट्टी से, सिद्धार्थनाथ सिंह इलाहाबाद पश्चिम से, नंदगोपाल नंदी इलाहाबाद दक्षिण से, रमापति शास्त्री मनकापुर से चुनाव लड़ रहे हैं जबकि राज्य मंत्री चंद्रिका प्रसाद उपाध्याय चित्रकूट सदर सीट से उम्मीदवार हैं। पूर्व मंत्रियों में अवधेश प्रसाद, तेजनारायण पांडेय उर्फ पवन पांडेय, कुंडा से रघुराज प्रताप सिंह उर्फ राजा भैया प्रमुख हैं। रविवार को इन सबकी किस्मत ईवीएम में कैद हो गई है। 10 मार्च के नतीजों के बाद ही क्लियर होगा कि जनता इस बार किसे सत्ता में देखना चाहती है।

धार्मिक नगरी के नतीजों पर नजर
पांचवें चरण में रामनगरी अयोध्या से लेकर प्रयागराज और चित्रकूट जैसी धार्मिक नगरी में मतदान हुआ। तीनों ही धार्मिक और आध्यात्मिक नगरी में बीजेपी का असल इम्तिहान है, क्योंकि 2017 में यहां बीजेपी ने क्लीन स्वीप किया था। तीनों ही जिले की कुल 19 विधानसभा सीटों में से 16 सीटें बीजेपी गठबंधन ने जीती थी जबकि सपा को एक और बसपा को दो सीटें मिली थी। सूबे के बदले हुए सियासी समीकरणों के बीच बीजेपी के सामने पिछली बार की तरह नतीजे दोहराना आसान नहीं दिख रहा है तो सपा गठबंधन के लिए भी चुनौतियों का पहाड़ है। फिलहाल, अब नतीजों का इंतजार है।

छठा चरण- 03 मार्च
यूपी चुनाव के छठे चरण में 10 जिलों की 57 सीटों पर चुनाव हैं। इनमें अंबेडकरनगर, बलरामपुर, सिद्धार्थनगर, बस्ती, संतकबीर नगर, महाराजगंज, गोरखपुर, कुशीनगर, देवरिया और बलिया हैं। छठे चरण का मतदान 03 मार्च को होगा।

सातवां चरण- 07 मार्च
उत्तर प्रदेश में सातवां और अंतिम चरण में 7 मार्च को 9 जिलों की 54 सीटों पर मतदान किया जाएगा। आजमगढ़, मऊ, गाजीपुर, जौनपुर, वाराणसी, मिर्जापुर, गाजीपुर, चंदौली, सोनभद्र