Monday , January 30 2023

UP Budget 2022- थाने में हथियारों के लिए 250 करोड़ रुपए, वाराणसी-आगरा मेट्रो, दो सिलेंडर मुफ्त, बुजुर्गो का 1000 रुपए पेंशन, देखें बजट की 35 बड़ी घोषणाएं

लखनऊ. UP Budget 2022-23. योगी सरकार 2.0 का पहला बजट गुरुवार को पेश किया गया। वित्त मंत्री सुरेश खन्ना ने सबसे पहले सरकार की उपलब्धियां गिनाई, फिर एक-एक कर बजट को बिंदुवर पेश किया। 2022-23 के लिए पेश हुए बजट का कुल आकार 6 लाख 15 हजार 518 करोड़ रुपए का है। इसमें वृद्धावस्था पेंशन योजना के तहत 1000 रुपये देने, गोरखपुर व वाराणसी को मेट्रो की सौगात दी गई है, साथ ही प्रधानमंत्री उज्जवला योजना के तहत लाभार्थियों को वर्ष में दो एलपीजी सिलेंडर मुफ्त देने जैसे घोषणाएं शामिल हैं। वित्त मंत्री ने कहा बजट में महिलाओं, युवाओं व किसानों को प्राथमिकता दी गई है। साथ ही दावा किया कि ये यूपी के इतिहास का सबसे बड़ा बजट है। निम्न देखें बजट की प्रमुख बातें-

– सेफ सिटी योजना के अंतर्गत महिलाओं की सुरक्षा के लिए लखनऊ, गौतमबुद्ध नगर, आगरा, वाराणसी, गोरखपुर, प्रयागराज में विकास योजना लागू की जाएगी। इसके लिए 523 करोड़ 34 लाख रुपए की व्यवस्था का प्रस्ताव है।

– गन्ना किसानों को 1.72 लाख करोड़ रुपए का रिकॉर्ड भुगतान किया गया है। जिसके साथ ही गन्ना किसानों को भुगतान के मामले में यूपी नंबर वन प्रदेश हो गया है।

– प्रदेश में 1.41 करोड़ बिजली कनेक्शन दिए गए हैं। निवेश से 5 लाख रोजगार उत्पन्न करने में सहायता मिली है।

– प्रदेश में आतंकवादी घटनाओं पर रोक लगाने के लिए एटीएस सेंटर का गठन किया जा रहा है। जिसके बाद 5 जिलों मेरठ बहराइच, कानपुर, रामपुर व आजमगढ़ में एटीएस सेंटर बनेंगे।

ये भी पढ़ें- कांग्रेस में शामिल हुए पूर्व मंत्री नकुल दुबे, यूपी कांग्रेस के बन सकते हैं अध्यक्ष

– प्रदेश में 2.55 करोड़ किसानों को किसान निधि की राशि का लाभ दिया गया है।

– 15 करोड़ किसानों को मुफ्त राशन की सुविधा दी गई। कोरोनाकाल में इस योजना से गरीब परिवारों को लाभ पहुंचाया गया है।

– किसानों के मिलेंगे 16000 सोलर पंप।

– जल्दी यूपी में पांच इंटरनेशनल एयरपोर्ट बनकर तैयार हो जाएंगे। अयोध्या, जेवर व कुशीनगर के एयरपोर्ट इंटरनेशनल एयरपोर्ट होंगे।

– उत्तर प्रदेश विशेष सुरक्षा बल के गठन के किए 276 करोड़ों रुपए प्रस्तावित

– सुरक्षा बल के लिए 276 करोड़ प्रस्तावित। तीन महिला पीएसी बटालियन भी बनाई गई। थाने में सुरक्षा के लिए ढाई सौ करोड़ रुपए प्रस्तावित हैं।

– निराश्रित महिला पेंशन 500 से बढ़ाकर 1000 रुपए किया गया है।

– वृद्धावस्था पेंशन बढ़ाकर 1000 रुपए प्रतिमाह की गई है।

– मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना के लिए 600 करोड़ रुपए प्रस्तावित

– दिव्यांग भरण पोषण के लिए 1000 रुपए प्रस्तावित बुजुर्ग पुजारियों संतों का कल्याण बोर्ड बनाने के लिए 1 करोड़ रुपए प्रस्तावित।

– मजदूरों, पटरी वालों के बच्चों की 6-12 कक्षा तक की शिक्षा के लिए 300 करोड़ रुपए प्रस्तावित

– मेरठ में स्पोर्ट्स यूनिवर्सिटी की स्थापना होगी, जिसके लिए 50 करोड़ प्रस्तावित है।

– मध्य गंगा नहर परियोजना के लिए 600 करोड़ रुपए

– अर्जुन सहायक परियोजना के लिए 20 करोड़ रुपए प्रस्तावित।

– नहर से मुफ्त पाने के लिए 800 करोड रुपए।

– तटबंध निर्माण परियोजना के लिए 356 करोड़ रुपए।

– सरयू नहर परियोजना के लिए 310 करोड़।

– राज्य के सभी जिलों में खेलो इंडिया सेंटर की स्थापना होगी।

– चीनी मिलों के आधुनिकीकरण व नई चीनी मिलों की स्थापना के लिए 380 करोड़ रुपए प्रस्तावित।

– आगरा मेट्रो के लिए 597 करोड़, कानपुर मेट्रो के लिए 774 करोड़ों रुपए

– बेसहारा पशुओं के लिए 100 करोड़ों रुपए का प्रस्ताव

– वाराणसी में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम के निर्माण के लिए 95 करोड़ रुपए

– महाकुंभ की तैयारी के लिए 1100 करोड़ रुपए

– शुद्ध पेयजल के लिए 2000 करोड़ रुपए

-पंचायती राज योजनाओं के लिए 7400 करोड़ प्रस्तावित

-लखनऊ में विधि विज्ञान प्रयोगशाला प्रस्तावित।

– 15000 सोलर पंप लगाए जाने का प्रस्ताव

-थानों में हथियारों के लिए ढाई सौ करोड़ रुपए

– डायल 112 के लिए 730 करोड़ रुपए प्रस्तावित

– लघु सिंचाई योजना के लिए एक हजार करोड़ रुपए प्रस्ताव