Tuesday , February 7 2023

केवल 5000 रुपये कीजिये खर्च, हर महीने कम आने लगेगा बिजली का बिल, बेहद दिलचस्प है Smart Meter की ये टेक्निक


लखनऊ. Smart Meter: राजधानी लखनऊ में बिजली के मीटर में सेटिंग करके बिल कम करने का बेहद दिलचस्प मामला सामने आया है। दिलचस्प इसलिये क्योंकि बिजली के विभाग के ही अधिकारी को एक जुगाड़ू शख्स ने 5 हजार रुपये में बिजली बिल कम करने का ऑफर दे डाला। दरअसल शख्स इस बात से बिल्कुल अंजान था कि जिसे वह बिजली बिल कम करने का ऑफर दे रहा है, वह बिजली विभाग के एक्जीक्यूटिव इंजीनियर हैं।

5000 दो, बिजली बिल कम आएगा
आपको बता दें कि मध्यांचल विद्युत वितरण निगम लिमिटेड (Madhyanchal Vidyut Vitran Nigam Limited) के एक्जीक्यूटिव इंजीनियर अरविंद ओझा के मोबाइल नंबर पर प्रशांत गुप्ता नाम के शख्स का फोन आया। प्रशांत के मुताबिक वह 5 हजार रुपये में घर में लगे मीटर को धीमे कर देता है, जिससे बिजली का बिल बेहद कम आता है। उसने बताया कि वह घरों में मीटर लगाने का ही काम करता है। जिसके बाद अरविंद ओझा ने प्रशांत को लखनऊ के इंदिरा नगर में स्थित अपने घर आने को कहा। प्रशांत जैसे ही अपने साथी दीपक मौर्य के साथ वहां पहुंचा तो उसके होश उड़ गए। क्योंकि प्रशांत को पकड़ने के लिए बिजली विभाग के दूसरे कर्मचारी भी वहां आ चुके थे। इन कर्मचारियों ने प्रशांत और दीपक को पुलिस के हवाले कर दिया है।

पकड़े गए स्‍मार्ट मीटर धीमा करने वाले
वहीं पुलिस के मुताबिक दोनों आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है। पकड़े गए शख्स के पास से बिजली का मीटर बनाने वाली कंपनी आईपीएस का आईडी कार्ड मिला है। साथ ही पॉली कार्बन सील एवं मीटर सीलिंग बुक भी मिली। दरअसल आईपीएस कंपनी को स्मार्ट मीटर लगाने का जिम्मा एल एंड टी (L&T) कंपनी ने 2020 में सौंपा था। ऐसे में जब पता चला कि बिजली के मीटर को स्लो और बिल को आधा करने वाला शख्स आईपीएस कंपनी से जुड़ा हुआ है तो ऐसे में फिर बिजली विभाग के लोगों ने आईपीएस और एलएनटी कंपनी के लोगों को भी बुलाया गयै। आईपीएस कंपनी के प्रशांत पहले वहीं काम करता था। उन्होंने कई बार उसे आईडी कार्ड जमा कराने को कहा, लेकिन उसने आईडी कार्ड जमा नहीं करवाया। फिलहाल आरोपी से पूछताछ की जा रही है कि उसने किन-किन लोगों से इस काम के बदले पैसे लिए हैं।