Monday , January 30 2023

UP Elections 2022: यूपी में अब पांचवें चरण के लिए छिड़ा सियासी संग्राम, चौथे चरण के मतदान के बीच पड़ोसी जिलों में दहाड़े दिग्गज

लखनऊ. बुधवार को उत्तर प्रदेश में एक तरफ चौथे चरण के लिए मतदान हो रहा था और दूसरी तरफ पड़ोसी जिलों में पक्ष-विपक्ष के नेता जनसभाओं में जीत के दावे करते हुए मतदाताओं से अपनी पार्टी के प्रत्याशी को जिताने की अपील कर रहे थे। लखनऊ से सटे बाराबंकी में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी करीब 12 बजे पहुंच गये थे। अमेठी, सुल्तानपुर, प्रतापगढ़ व रायबरेली मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, और भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा प्रतापगढ़ और प्रयागराज में जनसभा को संबोधित किया। बहराइच में अखिलेश यादव बीजेपी की डबल इंजन सरकार पर निशाना साध रहे थे तो कांग्रेस प्रत्याशियों के समर्थन में प्रियंका गांधी अमेठी में डोर टू डोर जनसंपर्क कर रही थीं। वहीं, लखनऊ में सुबह-सुबह मतदान करने के बाद बसपा प्रमुख मायावती ने कहा कि प्रदेश के लोगों ने वोट देने से पहले ही समाजवादी पार्टी को नकार दिया है, क्योंकि सपा को वोट देने का मतलब है गुंडा राज, माफिया राज को समर्थन देना। चौथे चरण की वोटिंग के साथ ही अब पांचवें चरण के लिए सियासी संग्राम छिड़ चुका है। पांचवें चरण में 27 फरवरी को 10 जिलों की 60 विधानसभा सीटों पर मतदान होगा।

घोर परिवारवादियों ने यूपी के साथ इंसाफ नहीं किया: पीएम मोदी
बहराइच में जनसभा को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सपा और कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि यूपी में भाजपा से पहले शासन करने वाले घोर परिवारवादी लोग नहीं चाहते कि गरीबों का भला हो। दशकों तक इनकी सरकार रही, लेकिन इन लोगों ने यूपी के लोगों को कभी भी खुलकर अवसर नहीं दिया। क्योंकि वंशवादी लोग चाहते हैं कि जनता हमेशा ही गरीब बनी रहे, ताकि वह उनके आसपास घूमती रहे, जबकि भाजपा जनता की मुश्किलें दूर करने पर काम कर रही है। इसलिए इस बार भी यूपी की जनता भाजपा को भरपूर समर्थन दे रही है। परिवारवादी दलों ने गरीबों का राशन लूटा लेकिन भाजपा ने एक राष्ट्र एक राशन कार्ड लाकर उनका खेल खत्म कर दिया। इस दौरान उन्होंने बीजेपी सरकार की उपलब्धियों की खूब बखान किया। कौशाम्बी में पीएम मोदी ने कहा कि यूपी के तेज विकास के लिए सबको एकजुट होना जरूरी है।