Wednesday , February 8 2023

Multi Crop Farming : खेती से छह गुना तक चाहिए हो तो मुनाफा तो करें सब्जी की बहुफसली खेती

सुधीर कुमार

लखनऊ. Multi Crop Farming- आमतौर पर सब्जी की खेती किसानों को काफी मुनाफा पहुंचाती है। वह भी अगर सब्जी की खेती बहुफसली तो आमदनी कई गुना ज्यादा हो सकती है। लखनऊ जिले के काकोरी के भटखेरवा गांव में ज्यादातर किसान सब्जी की बहुफसली खेती करते हैं और लाखों का रुपए की मुनाफा कमाते हैं। भटखेरवा गांव के किसान नन्हा पंडित एक बीघे खेत में Multicrop Farming कर रहे हैं। वह बताते हैं कि एक बीघे में करीब 20 हजार रुपए की लागत आती है, जिससे एक से सवा लाख रुपए तक मुनाफा कमाया जा सकता है। कहा कि बहुफसली खेती का फायदा यह है कि इसमें नुकसान की संभावना नहीं के बराबर होती है।

किसान नन्हा पंडित ने बताया कि अगर आप भी सब्जी की बहुफसली खेती करना चाहते हैं तो खेत को तैयार करने के बाद तरोई, लौकी और सेम की बुआई कर दें। बुआई लाइन में कराएं। पौधा बड़ा होने पर झाड़ और तार आदि लगायें ताकि फली/सब्जी जमीन से न टच हो। इससे पौधा तो बेहतर चलेगा ही सब्जी की चमक भी बरकरार रहेगी। उन्होंने बताया कि पहले तरोई फिर लौकी और सबसे आखिर में सेम तैयार होगी। इनकी बुआई का समय जुलाई महीना है।

क्या ध्यान रखें
किसान नन्हा पंडित ने बताया कि बहुफसली फसल में सबसे ज्यादा झाड़ और तार का विशेष ध्यान रखने की जरूरत है। इसके अलावा चौकन्ने रहें कि कहीं फसल में कीड़ा तो नहीं लगा है। ठंड में पाले से भी नुकसान होता है। समय पर सिंचाई का भी ध्यान रखें। ऐसा करने से मुनाफा कई गुना ज्यादा बढ़ जाएगा।

दुबग्गा मंडी में करते हैं बिक्री
भटखेरवा गांव से दुबग्गा सब्जी मंडी 13 किलोमीटर दूर है। गांव के किसानों ने बताया कि वह खुद रोजाना सब्जी को मंडी ले जाते हैं। कई बार व्यापारी खेत पर आकर फसल ले जाते हैं।