Saturday , January 28 2023

Manav Sampada Portal- अब बेसिक शिक्षकों को आकस्मिक अवकाश के लिए स्कूल खुलने के पहले ही करना होगा आवेदन, जानें बदलाव के बारे में

लखनऊ. Manav Sampada Portal- महानिदेशक स्कूल शिक्षा vijay karan anand ने एनआईसी को पत्र भेजकर पोर्टल पर लीव मॉड्यूल में न केवल बदलाव करने को कहा है बल्कि साथ में अवकाश व उपस्थिति से जुड़े कई अन्य प्रावधानों में भी सुधार करने को कहा है| जिससे आकस्मिक छुट्टी लेने हेतु या स्कूल देर से पहुंचने वाली समस्या मे सुधार हो सके| अभी तक देखा गया है कि कुछ शिक्षक व कर्मचारी स्कूल अपने मन मुताबिक देर से पहुंचते हैं या बिना छुट्टी लिए ही अनुपस्थित रहते हैं| लेकिन जैसे ही उन्हें चेकिंग सम्बंधित जानकारी प्राप्त होती है वह घर बैठकर ही तुरंत पोर्टल पर अपनी छुट्टी को रजिस्टर कर देते हैं|

यह बदलाव भी शामिल है

  • पोर्टल पर अधिकारी यह देख सकेगा कि सम्बंधित स्कूल में उस दिन कौन-कौन पहले से छुट्टी पर है| ऐसा करने से छुट्टी देने की मंजूरी देने में आसानी होगी|
  • अगर अधिकारी छुट्टी देने से मना करता है तो उसे अब कारण भी लिखना होगा| और अब इन सभी प्रकरणों का रिकॉर्ड मेन्टेन किया जायेगा| जिससे पता लगाया जा सके की पूर्व में किस कारण या चिकित्सीय प्रमाण पत्र की तर्ज पर छुट्टी ली थी|
  • अवकाश स्वीकृति पर निर्णय लेते समय जिस दिन छुट्टी के लिए आवेदन किया गया है, उस स्कूल में उसी दिन कितने लोग पहले से ही अवकाश पर है, प्रदर्शित कराना|

यह भी पढ़ें – Turram Khan: आम बोलचाल की भाषा में बोला जाने वाला शब्द ‘तुर्रम खां’ के पीछे की कहानी जानिए,जिसे संसद में बोलने से किया गया है मना

इस बदलाव से क्या लाभ?
इस बदलाव से शिक्षा मित्र, शिक्षक, कमर्चारी, अनुदेशक ऑनलाइन छुट्टी के आवेदन में मनमानी नहीं कर पाएंगे|

कैसे करें पोर्टल पर आवेदन?

  • जुलाई से सितम्बर तक आकस्मिक छुट्टी के लिए सुबह 8 बजे के बाद और अक्टूबर से 20 मई तक सुबह 9 के बाद नहीं ले सकेंगे|
  • स्वीकृति सुबह 5 से 9 बजे के ही बीच हो सकेगी|
  • जिसे अभी प्रधानाध्यापक या खंड शिक्षा अधिकारी सुबह 9 बजे के बाद ही स्वीकृति देते हैं| ऐसे में स्कूल खुलने से पहले किसी के आकस्मिक अवकास प्रस्ताव को निरस्त कर पाना मुमकिन नहीं हो पाता है| जिससे अगर छुट्टी निरस्त हो जाती है तो इसकी सूचना देर से मिलने के कारण शिक्षक या कर्मचारी स्कूल देर से पहुंच पाता है|

यह भी पढ़ें – कोरोना की तरह कहीं Monkeypox भी तो नहीं बरपाएगा कहर? जानें- क्या हैं लक्षण और गाइडलाइन

यह भी पढ़ें – New GST rates- आज से महंगी हुईं घर-घर इस्तेमाल होने वाली दर्जन भर से ज्यादा चीजें, दही, पनीर, लस्सी पर भी टैक्स, देखें लिस्ट