Monday , January 30 2023

लखीमपुर हिंसा मामले के मुख्य आरोपी मंत्री पुत्र आशीष मिश्रा को मिली जमानत

लखीमपुर खीरी. लखीमपुर खीरी जिले के तिकुनिया हिंसा कांड के मुख्य आरोपी केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा टेनी के बेटे आशीष मिश्रा को जमानत मिल गई है। गुरुवार को यह आदेश हाईकोर्ट की लखनऊ बेंच के जस्टिस राजीव सिंह की एकल पीठ ने दिया। कोर्ट ने 18 जनवरी 2022 को आशीष की जमानत अर्जी पर सुनवाई के बाद अपना आदेश सुरक्षित रखा था।

03 अक्टूबर को तिकुनिया हिंसा मामले में चार किसानों सहित आठ लोगों की मौत हो गई थी। मामले में एसआईटी ने सीजेएम कोर्ट में 05 हजार पन्नों की चार्जशीट दाखिल की थी, जिसमें आशीष मिश्रा को मुख्य आरोपित बनाते हुए 14 लोगों को आरोपी बनाया गया था। चार्जशीट के मुताबिक, सोची समझी साजिश के तहत धरना प्रदर्शन कर रहे किसानों को जीप और एसयूवी से कुचला गया था।

आशीष मिश्रा की जमानत पर बोले किसान नेता राकेश टिकैत
किसान नेता और भारतीय किसान यूनियन के प्रवक्ता राकेश टिकैत ने कहा कि आशीष मिश्रा की जमानत पर सवाल उठाये। कहा कि कोर्ट के फैसले पर कुछ नहीं कह सकते। लेकिन, यूपी चुनाव में इस बात को हम बीजेपी के खिलाफ प्रचारित करेंगे।

प्रियंका गांधी के निशाने पर प्रधानमंत्री
रामपुर में कांग्रेस प्रत्याशी के समर्थन में प्रियंका गांधी ने रोड शो और डोर टू डोर चुनाव प्रचार किया। इस दौरान उन्होंने एक जनसभा को संबोधित की। बीजेपी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि लखीमपुर खीरी में किसानों का नरसंहार करने वाले के पिता से प्रधानमंत्री ने इस्तीफा क्यों नहीं लिया? एक प्रधानमंत्री का देश के प्रति धर्म होता है जो सभी धर्मों में सर्वोपरि होता है। उसकी नैतिक जिम्मेदारी होती है। जो इसे नहीं माने, ऐसी सरकार को नकार देना ही बेहतर होता है। मुख्य आरोपी को जमानत मिल गई है और अब वह खुलेआम घूमेगा।

प्रदर्शन कर रहे किसानों पर चढ़ाई थी गाड़ी
पिछले साल तीन अक्टूबर को लखीमपुर खीरी के तिकुनिया में चार किसानों को एक एसयूवी कार से कुचल दिया गया था, जब वह एक कार्यक्रम में कृषि कानूनों के खिलाफ विरोध प्रदर्शन कर लौट रहे थे। घटना के बाद हुई हिंसा में भी कुछ लोग मारे गए। किसानों ने आरोप लगाया था कि एसयूवी अजय मिश्रा टेनी की थी और उसमें उनका बेटा आशीष मिश्रा था। हिंसा के कई दिनों के बाद आशीष मिश्रा को 9 अक्टूबर को कई घंटों की पूछताछ के बाद गिरफ्तार कर लिया गया था।