Tuesday , February 7 2023

पैर से कलम पकड़कर भविष्य गढ़ रहा UP का आकाश, दोनों हाथ व एक पैर से है दिव्यांग

Uttar Pradesh के बाराबंकी (Barabanki) के विकासखंड सिरौलीगोसपुर (Sirauligosepur) के पूर्व माध्यमिक विद्यालय मधवापुर में कक्षा छह के दिव्यांग छात्र आकाश के हौसले की अब मिसाल दी जाने लगी है। दरअसल, जन्म से ही आकाश के दोनों हाथ नहीं हैं। आकाश का एक पैर भी न के बराबर ही है। लेकिन फिर भी आकाश केवल एक पैर से दुनिया को अपने सामने नतमस्तक करने का जज्बा रखते हैं। पैर से कलम पकड़कर आकाश खुद का भविष्य गढ़ रहा है। सिरौलीगौसपुर तहसील के राजापुर गांव के निवासी हरिकेश का कहना है कि जैसा उनका नाम है, वह ठीक उसी आकाश की तरह बुलंदियों को छूना चाहते हैं। आकाश के अंदर दिव्यांग होने का कोई भी मलाल नहीं है। बल्कि आकाश कहते हैं कि वह सारा काम बाकी लोगों से अच्छा कर सकते हैं। आकाश एक पैर से मोबाइल भी चलाता है। देखिए उसकी कहानी।