Monday , January 30 2023

भारतीय विदेश मंत्री की क्यों हो रही है जय-जयकार?

नई दिल्ली. भारत में कथित मानवाधिकार उल्‍लंघन के सवाल पर भारतीय विदेश मंत्री एस. जयशंकर ने अमेरिका को करारा जवाब दिया है। उन्‍होंने इशारों ही इशारों में साफ कह दिया कि भारत अमेरिका में भारतीयों के मानवाधिकारों के उल्‍लंघन पर नजर बनाए हुए है। शायद यह पहला मौका है, जब भारत ने इस तरह से अमेरिका को मुंहतोड़ जवाब दिया है। अमेरिकी विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकन ने कहा था कि उनका देश भारत में मानवाधिकारों के उल्‍लंघन की निगरानी कर रहा है। इसमें कुछ सरकारी, पुलिस और जेल अधिकारियों की मानवाधिकार उल्लंघन की बढ़ती हुई घटनाएं शामिल हैं। हाल ही में अमेरिकी विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकन ने भारत के साथ 2+2 डायलॉग के दौरान मानवाधिकार के मुद्दे को उठाया था।

मीडिया से बातचीत में भारतीय विदेश मंत्री जयशंकर ने कहा, “भारत के बारे में राय रखने के लिए कोई भी स्वतंत्र है, लेकिन यह ध्यान होना चाहिए कि भारत को भी अपनी बात रखने का पूरा अधिकार है। अमेरिका में मानवाधिकार के मामलों पर हमारी भी नजर है और खासतौर पर भारतीय समुदायों के हितों को लेकर हम चिंतित हैं।” अमेरिकी विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकन की ओर से मानवाधिकार पर ज्ञान दिए जाने के बाद भारत ने यह तीखी टिप्पणी की है। सोशल मीडिया पर जिसकी खूब तारीफ हो रही है।