Sunday , May 28 2023

Banda Boat Accident – नदी में उतराते मिले सात शव, अब तक दस की मौत

बांदा. बांदा में शुक्रवार को मर्का थाना क्षेत्र में नाव डूबने से कई लोगों की मौत हो गई है। कल ही तीन शव नदी से निकाले गए थे। बाकी की तलाश एनडीआरएफ की टीम कर रही थी। लेकिन बाकी लोगों को पता नहीं चल पा रहा था। करीब 17 और लोगों की तलाश जारी थी, जिसमें से सात लोगों के शव शनिवार भोर सुबह नदी में उतराते दिखे। आसपास के ग्रामीणों न देखा तो इसकी पुलिस प्रशासन को सूचना दी। नाविक नदी में नाव लेकर गए और शवों को निकाला जा सका। इममें चार की पहचान हो गई, वहीं तीन की नहीं हो पाई।

सभी शव फतेहपुर के किशनपुर थाना क्षेत्र में मिले हैं। थाना क्षेत्र के नरौली गांव किनारे यमुना में जयचंद्र (16) पुत्र प्रेमचंद्र निवासी मैकुवापुर मजरे सरकंडी का शव मिला। घटना के दिन वह बांदा के बैराफ बहन के घर से राखी बंधवा कर नाव से लौट रहा था। जयचंद्र की पहचान उसके बड़े भाई रज्जन ने की है। सडीआरएफ और पुलिस बाकी लोगों की तलाश में लगी है। एसडीएम मनीष कुमार ने बताया कि शवों की शिनाख्त का प्रयास किया जा रहा है। टीमें खोजबीन में जुटी हैं।

यमुना नदी में नाव डूबी
बता दें कि 12 अगस्त को करीब 45 लोग नाव से यमुना नदी पार कर रहे थे। दोपहर करीब तीन बजे मर्का थाना क्षेत्र के कस्बे से फतेहपुर के असोथर जा रही नाव यमुना नदी के बीच धार में पहुंची तो पतवार टूट गई। इससे नाव डगमगाने लगी। इसी बीच कई यात्री नाव से कूद पड़े। इससे नाव पलट कर नदी में डूब गई। इसमें 32 लोग लापता हो गए थे, जब्कि जो 15 लोग तैर सकते थे वह बाहर आ गए थे। तीन शव बरामद कर लिए गए थे।

शुक्रवार को पूरे दिन बांदा में यमुना नदी में नाव डूबने से लापता हुए 32 लोगों को खोजने के लिए एनडीआरएफ और एसडीआरएफ की कुल छह टीमें लगी थी। इन टीमों के 60 जवान आठ मोटर बोट से पूरे दिन तलाशी करते रहे। बाद में किसी और को ढूंढ नहीं पाए थे।