Monday , January 30 2023

27 महीने बाद जेल से छूटे आजम खान को गेट पर ही रिसीव करने पहुंचे शिवपाल यादव, अखिलेश इधर रहे व्यस्त

पूरी खबर सुनें-

लखनऊ. Azam Khan released from Sitapur Jail- उत्तर प्रदेश में शुक्रवार को वैसे तो तमाम छोटी-बड़ी खबरें थी, लेकिन सबसे ज्यादा चर्चा में रहे आजम खान। करीब 27 महीने बाद जेल से उनकी रिहाई हुई। उससे भी ज्यादा चर्चा में रहा शिवपाल यादव का उन्हें रिसीव करना। शुक्रवार सुबह सीतापुर जेल से आजम खान को रिहा कर दिया गया। उनके दोनों बेटों के साथ बड़ी संख्या में आजम खान के समर्थक भी वहां मौजूद थे। साथ ही प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष शिवपाल यादव भी उनके इस्तकबाल के लिए फूलों का गुलदस्ता लिए खड़े थे। शुक्रवार को एक गुलदस्ता अखिलेश यादव के हाथ में भी था, लेकिन वह लोकसभा अध्यक्ष ओम बिड़ला के लिए था, जिन्होंने आज यूपी विधानसभा में ई-विधान व्यवस्था का शुभारंभ किया। अखिलेश यादव सपा विधायक आजम खान से मिलने तो नहीं पहुंचे, पर ट्वीट के जरिये उनका स्वागत जरूर किया। साथ ही लिखा- झूठ के लम्हे होते हैं, सदियां नहीं। फिर एक के बाद एक कई सपाइयों ने आजम की रिहाई के संदर्भ में ट्वीट किये।

आजम के जेल से बाहर आते ही सभी ने उनका गर्मजोशी से स्वागत किया। समर्थकों से गले मिलने के दौरान आजम भावुक हो गए। उनकी आंखें भर आईं। जेल से छूटते ही आजम खान सबसे पहले परिवार समेत पूर्व विधायक अनूप गुप्ता के घर गये। यहां वह करीब एक घंटे तक रुके और पराठे, ढोकला और काजू की बर्फी खाई। इसके बाद वह काफिले के साथ रामपुर के लिए रवाना हो गये, जहां समर्थकों ने भव्य तरीके से उनका स्वागत किया।

अखिलेश यादव पर कुछ नहीं बोलीं तंजीन फातिमा, समर्थकों को कहा- शुक्रिया
अखिलेश यादव ने गुरुवार को आजम खान को जमानत मिलने पर कोई ट्वीट नहीं किया। इसे लेकर वह ट्रोलर्स के निशाने पर आ गए। सुबह भी जब वह आजम से मिलने नहीं पहुंचे तो सोशल मीडिया पर उन्हें लोग ट्रोल करने लगे। इस दौरान आजम की पत्नी तंजीन फातिमा ने तो अखिलेश के बारे में कुछ भी कहने से इनकार कर दिया। कहा कि “मैं उनके (अखिलेश यादव) बारे में कुछ नहीं कहना चाहती। कोर्ट ने हमें राहत दी है, मैं उन सभी लोगों का शुक्रिया अदा करना चाहती हूं जिन्होंने मुश्किल समय में हमारा साथ दिया।” सूत्रों की मानें, अखिलेश यादव और आजम खान के बीच जल्द ही मुलाकात होगी।