Monday , January 30 2023

अंत्योदय कार्डधारक सावधान! इस तारीख से चलेगा आयुष्मान कार्ड बनाने का अभियान, मिलेगा 5 लाख का मुफ्त इलाज

बाराबंकी. आयुष्मान भारत योजना (Ayushman Bharat Yojana) के तहत जनपद में अंत्योदय कार्ड (Antyodaya Card) धारकों 30 अप्रैल तक ग्रामवार कैंम्प लगाकर आयुष्मान कार्ड बनाया गया। सामाजिक आर्थिक जनगणना 2011 के अनुसार में जिला क्रियान्वन ईकाई के नेतत्व में स्वास्थ्य विभाग की टीम अभी लक्ष्य के सापेक्ष 61 हजार से अधिक कार्ड बनाया गया। अब आगामी 10 से 25 मई तक ग्रामवार कैँम्प लगाकर स्वास्थ्य विभाग के साथ ही कोटेदार एवं प्रधानों के सहयोग से सफल संचालन किया जायेगा। इसमें लक्षित अंत्योदय परिवारों का आयुष्मान कार्ड बनाया जायेगा।

एसीएमओ एवं आयुष्मान के नोडल अधिकारी डा. डीके श्रीवास्तव ने बताया कि अंत्योदय कार्ड धारक परिवारों को आयुष्मान भारत योजना में शामिल किया गया है। अंत्योदय कार्ड धारक परिवार के लोगों का आयुष्मान कार्ड बनाया जा रहा है। कार्ड धारक परिवार को एक साल में पांच लाख रुपये तक निशुल्क उपचार की सुविधा उपलब्ध कराई जा रही है। यह उपचार सभी सरकारी व योजना से संबद्ध निजी अस्पतालों में उपलब्ध है। कार्ड बनाने के लिए कोटेदारों एवं प्रधानो से सहयोग ली जा रही है। उन्होंने बताया कि अब आगामी दस से 25 मई तक लक्षित कुल 1 लाख 13 हजार 883 अंत्योदय परिवारों का कार्ड बनाया जायेगा।

जिले में कुल 17.19 लाख के बनाये जायेंगे कार्ड
आयुष्मान योजना में जिला क्रियान्वन ईकाई के डा नमिता सिंह, डा अभिषेक एवं सुधीर अवस्थी के नेतृत्व में निरन्तर आरोग्य मित्र एवं आटोमैटिक्स टीम द्वारा आगामी दस से ग्रामवार कैंप लगाकर 113883 अंत्योदय परिवार के कार्ड बनाया जायेगा। इसके अलावां बाराबंकी में योजना के शुरूआत से अब तक 3 लाख 90 हजार 274 लाभार्थी परिवारों के कार्ड बनाये गये है। जनपद के करीब 17 हजार 200 हजार मरीजो ने निशुल्क इलाज करवाया है। इस योजना के तहत पूरे जनपद के 17 लाख 19 हजार 236 लागों को आयुष्मान कार्ड बनाये जायेंगे।

5 लाख तक फ्री इलाज हेतु लाभार्थी बनवायें आयुष्मान कार्ड
आयुष्मान कार्ड के लिए लक्षित अंत्योदय कार्ड धारक अपना एवं अपने परिवार के सदस्यों का कार्ड अनिवार्य रूप से बनवा लें। इसके लिए आयुष्मान कार्ड बनाने की सुविधा जिला चिकित्सालय, जिला महिला चिकित्सालय, समुदायिक स्वस्थ्य केन्द्रो में देवा, रामसनेहीघाट, फतेहपुर, त्रिवेदीगंज, सिद्धौर, मथुरानगर, रामनगर, जाटा बरौली, सूरतगंज, बड़ागांव, टिकैतनगर, सतरिख, हैदरगढ़, सिरौलीगौसपुर, सहादतगंज, जहांगीराबाद, कोठी, जैदपुर, निजी चिकित्सालय में- 100 बेड हॉस्पिटल सिरौली गौसपुर, हिंद मेडिकल कालेज, मेयो मेडिकल कालेज, आस्था हास्पिटल, आहुजा नर्सिग होम, जैन नर्सिंग होम, कृष्णा मैटरनिटी हॉस्पिटल, रामसनेहीघाट में आकांक्षा नर्सिंग होम, शांति पॉलिक्लिनिक, श्री साई हॉस्पिटल एण्ड रिसर्च सेन्टर, द लिप्रोसि मिशन हॉस्पिटल, शेरवुड अस्पताल सहित कुल 34 अस्पताल हैं। इसके साथ ही कार्ड जनसेवा केंद्रों पर भी नि:शुल्क बनेंगे।

पांच लाख तक का मुफ्त इलाज
आयुष्मान गोल्डन एक ऐसा कार्ड है, जिससे देश का कोई भी व्यक्ति आयुष्मान भारत योजना में चुने गए सरकारी और निजी हॉस्पिटलों में अपना 5 लाख रूपए तक का मुफ्त इलाज करवा सकता है। यह गोल्डन कार्ड उन गरीब लोगो को मिलेगा जो आयुष्मान भारत योजना के लाभार्थी होंगे।