Saturday , January 28 2023

अपर्णा यादव ने सपाइयों के सामने पहली बार दिखाया ऐसा रूप, जमकर दहाड़ीं, कहा- मैं शेरनी हूं…

बाराबंकी. UP Election 2022: उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव की तारीखों का ऐलान होने के ठीक बाद से ही नेताओं की सियासी बयानबाजी तेज होती जा रही है। इसी क्रम में भाजपा नेता अपर्णा यादव (Aparna Yadav) भी एक के बाद एक विस्फोटक बयानबाजी करके खूब सुर्खियां बटोर रही हैं। अपर्णा यादव आज बाराबंकी में भी जनसभा करने आई थीं, लेकिन इस दौरान उनको अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) के समर्थकों का विरोध का भी सामना करना पड़ा। लेकिन अपर्णा यादव ने अपने विरोध को लेकर भी विरोधियों को मुंहतोड़ जवाब दिया कि वह शेरनी हैं, किसी से डरती नहीं।

अपर्णा बोलीं- मैं शेरनी हूं
दरअसल बाराबंकी की सदर विधानसभा सीट के अंतर्गत आने वाले मौथरी गांव में आज भाजपा प्रत्याशी अपर्णा यादव जनसभा कर रही थीं, इसी दौरान समाजवादी पार्टी के समर्थकों ने अखिलेश यादव जिंदाबाद के नारे लगाने शुरू कर दिया। जिसके बाद भाजपा नेताओं ने नारेबाजी कर रहे युवक की जमकर धुनाई भी कर दी। वहीं ठीक उसके बाद अपर्णा यादव की दूसरी जनसभा सदर विधानसभा सीट के खजूर गांव में हुई। जिसमें अपर्णा यादव ने विरोधियों को मुंहतोड़ जवाब दिया और कहा कि उनकी पहले वाली जनसभा में बाराबंकी सदर के सपा विधायक ने कुछ अराजक तत्वों को भेजा था। अपर्णा यादव ने कहा कि शेर जब चलता है, तो अकेले शिकार करता होगा, लेकिन जंगल में शेरनी शिकार करती है। मैं किसी से डरती नहीं हूं। क्योंकि मेरे साथ राष्ट्रवाद और पीएम मोदी का विजन है। उन्होंने कहा कि सबका साथ, सबका विश्वास और सबका विकास के साथ इस बार सबका प्रयास भी जोड़ देना। जिससे भाजपा सरकार बन सके।


बीजेपी को जिताने की अपील
वहीं इस दौरान उन्होंने यादव बिरादरी के लोगों से आह्वाहन किया कि धर्मयुद्ध में भाजपा के राष्ट्रवाद के रथ पर सवार होकर पूरे जिले में कमल खिलाकर भाजपा को बड़ी जीत दिलाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएं। उन्होंने कहा कि जब राजपूतों की सेनाएं युद्ध के लिए निकलती थीं, तो यादव उनका नेतृत्व किया करते थे। अब समय आ गया है कि पूरी यादव बिरादरी भाजपा का साथ देकर पीएम मोदी और सीएम योगी के हांथो को मजबूत करे। उन्होंने भाजपा सरकार की तमाम योजनाओं का जिक्र किया। महिलाओं की सुरक्षा को लेकर योगी सरकार की सराहना की। उन्होंने कहा कि सपा के गुंडे भाजपा सरकार में अपनी जान की भीख मांग रहे है।