Tuesday , February 7 2023

UP Elections 2022: योगी-शाह के निशाने पर समाजवादी, अखिलेश और मायावती के भी तीखे तीर, जानें- आज किसने क्या कहा…

अखिलेश की सरकार परिवार के लिए चलती थी: अमित शाह
मैनपुरी. क्रिश्चियन मैदान में जनसभा को संबोधित करते हुए केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने चुनावी सभा को संबोधित किया। उन्होंने कहा कि अखिलेश बाबू की सरकार परिवार के लिए चलती है। सभी जाति के लोगों का काम नहीं होता था। भाजपा जातिवाद को उखाड़ कर फेंकने में सफल हुई है। आज गुंडे माफिया पुलिस से डरते हैं। अखिलेश सरकार में पुलिस उनसे डरती थी। उन्होंने कहाकि योगी सरकार में अपराध कम हुआ है वहीं, पीएम मोदी ने देश को सुरक्षित करने का काम किया है। आज भारत की सीमा और सेना की तरफ कोई आंख उठाकर देख नहीं सकता।

सैफई परिवार कभी नहीं चाहेगा, दूसरा यादव खड़ा हो : सीएम योगी
मैनपुरी. समाजवादी पार्टी के गढ़ सैफई में जनसभा को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अखिलेश यादव पर जमकर शब्दबाण चलाये। कहा कि सैफई खानदान कभी नहीं चाहेगा कि कोई दूसरा यादव खड़ा हो। जो व्यक्ति 12 बजे सो कर उठता हो। वह अपने पराये का ध्यान नहीं रखता है। वह हरिओम यादव (भाजपा में शामिल हुए मुलायम के समधी) जैसे जनाधार वाले नेता को क्या सम्मान देगा। टुण्डला, फिरोजाबाद और कासगंज में सीएम योगी ने जहां सरकार की उपलब्धियों का जिक्र किया वहीं, समाजवादी पार्टी पर जमकर निशाना साधा। कहा कि भाजपा सरकार में अपराधियों न रहम हुआ और न ही होगा।

सबसे ज्यादा मौतें हिरासत में भाजपा सरकार में हुईं : अखिलेश यादव
रायबरेली. सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने रायबरेली की जनसभा में कानून-व्यवस्था, रोजगार और महंगाई के मुद्दों पर भाजपा को घेरा। कहा कि भाजपा सरकार में सबसे ज्यादा मौतें हिरासत में हुई हैं। गोरखपुर में वसूली करने के लिए पुलिस वालों ने व्यापारी को पीट-पीटकर मार डाला। अपराध करने के बाद आईपीएस अधिकारी फरार है और पुलिस वाले एक दूसरे अपराधी को क्रिकेट खेलने के लिए पिच बनवा रहे हैं। ये लोग हमारी कानून व्यवस्था पर सवाल उठाते हैं पर अब जनता सबकुछ समझ चुकी है। उन्होंने कहा कि जो लोग 12 बजे की बात कर रहे हैं, उनकी नींद उड़ी हुई है। अखिलेश यादव ने लोगों से आह्वान करते हुए कहा कि इस बार इन लोगों के 12 बजा देना।

https://twitter.com/yadavakhilesh/status/14a93219943743369216

बैंकों में जमा लोगों की कमाई क्या वाकई सुरक्षित है? मायावती
लखनऊ. बसपा प्रमुख मायावती ने बैंक घोटाले पर सवाल उठाते हुए कहा कि देश में लम्बे समय से भयंकर गरीबी, बेरोजगारी, कमरतोड़ महंगाई आदि की मार झेल रहे लोगों के लिए रोजी-रोजगार की कोई अच्छी खबर आने के बजाय, करीब 23 हजार करोड़ रुपए के सबसे बड़े बैंक घोटाले की खबर बेचैनी व आक्रोश बढ़ाने वाली है। क्या देश कभी बैंक घोटालों से मुक्त होगा? उन्होंने एक और ट्वीट करते हुए लिखा, ताज़ा बैंक घोटाले में किसी घोटालेबाज की अबतक गिरफ्तारी नहीं होने से भी लोगों के मन में अनेकों प्रकार के संदेह पैदा हो रहे हैं जो कि स्वाभाविक प्रतिक्रिया है। इसीलिए केन्द्र सरकार इस जन आशंका को भी दूर करे कि बैंकों में जमा लोगों की कमाई वाकई सुरक्षित है और रहेगी?