Tuesday , February 7 2023

Afghanistan Earthquake ने ली करीब 1000 की जान, जानें 1 से 10 तक की तीव्रता के भूकंप का कितना होता है असर

दिल्ली. Earthquake in Afghanistan. अफगानिस्तान में बुधवार को आए 6.1 तीव्रता के भूकंप ने भारी जान माल को नुकसान पहुंचाया है। देश की समाचार एजेंसी के मुताबिक करीब एक हजार लोगों की मौत हो गई है, तो वहीं डेढ़ हजार से ज्यादा लोग घायल हो गए हैं। बचाव कार्य तेजी से जारी है। देश ने इमेरजेंसी एजेंसियों से तत्काल मदद की गुहार लगाई है। यूएस जियोलॉजिकल सर्वे (USGS) के मुताबिक, भूकंप का केंद्र अफगानिस्तान के खोस्त शहर से 40 किलोमीटर की दूरी पर था।

ये भी पढ़ें- New Traffic Rules 2022- इस एक गलती की वजह से वाहन के सभी कागज़ व हेलमेट होने के बावजूद कट सकता है आपका चालान

वहीं यूरोपियन मेडिटरेनियन सिस्मोलॉजिकल सेंटर का कहना है कि इस भूकंप का असर 500 किलोमीटर तक के दायरे में था। इस कारण अफगानिस्तान के साथ पाकिस्तान और भारत तक में भूकंप का झटके महसूस किए गए। भूकंप से तबाही की जो तस्वीरें सामने आई है वह दिल दहला देने वाली है। 6.1 तीव्रता का भूकंप कितनी तबाही मचा सकता है, इसका आंकलन आई तस्वीरों से लगाया जा सकता है। ऐसे में जिज्ञासा यह भी होती है जानने की कि आखिर कितनी तीव्रता के भूकंप कितने खतरनाक होते हैं। 2004 में आई सुनामी का कारण भी भूकंप था, जिसकी तीव्रता रिक्टर स्केल पर 9.1 थी। बता दें कि भूकंप में रिक्टर पैमाने का हर स्केल पिछले स्केल के मुकाबले 10 गुना ज्यादा ताकतवर व खतरनाक होता है।

ये भी पढ़ें- Raksha Bandhan vs Laal Singh Chaddha- जब एक ही दिन बड़ी फिल्में टकराई बॉक्स ऑफिस पर और सभी ने मचाया धमाल

अब जानिए रिक्टर पैमाने पर भूकंप की तीव्रता के हिसाब से क्‍या हो सकता है असर-

– 0 से 1.9 रिक्टर स्केल पर भूकंप आने पर सिर्फ सीज्मोग्राफ से ही मालूम चलता है।

– 2 से 2.9 रिक्टर स्केल पर भूकंप आने पर हल्का कंपन महसूस होता है।

– 4 से 4.9 रिक्टर स्केल पर यदि भूकंप आया तो खिड़कियां टूट सकती हैं या दीवारों पर टंगे फ्रेम गिर सकते हैं।

– 5 से 5.9 रिक्टर स्केल पर भूकंप आया तो घर-दफ्तर में रखा फर्नीचर हिल सकता है।

– 6 से 6.9 रिक्टर स्केल पर यदि भूकंप आया तो इमारतों की नींव दरक सकती है, जिससे ऊपरी मंजिलों को नुकसान पहुंच सकता है।

– 7 से 7.9 रिक्टर स्केल वाले भूकंप पर इमारतें गिर जाती हैं। जमीन के अंदर पाइप फट जाते हैं।

– 8 से 8.9 रिक्टर स्केल पर भूकंप आया तो इमारतों सहित बड़े पुल भी गिर जाते हैं।

– 9 या उससे ज्यादा रिक्टर स्केल पर भूकंप आया तो मानिए तबाही। उस दौरान यदि कोई मैदान में खड़ा हो, तो वह धरती को लहराते हुए पाएगा। समंदर के नजदीक हुआ तो सुनामी देखेगा।