Monday , January 30 2023

मुख्तार अंसारी पर और कसा शिकंजा, करीबी शाहिद के 39 लाख के वाहन होंगे कुर्क


बाराबंकी. Mukhtar Ansari: मुख्तार अंसारी फर्जी एंबुलेंस मामले में गैंगस्टर के आरोपी मोहम्मद जाफरी उर्फ शाहिद के 39 लाख कीमत के वाहनों को कुर्क करने का आदेश जिला मजिस्ट्रेट बाराबंकी ने जारी किया है। मोहम्मद जाफरी को अप्रैल में गिरफ्तार करके जेल भेजा गया था।

मुख्तार के करीबी पर शिकंजा
गैंगस्टर में निरुद्ध लखनऊ के वजीरगंज के निवासी मोहम्मद जाफरी पर मुख्तार अंसारी के साथ रहकर अवैध धन अर्जित किए जाने का आरोप भी है। बाराबंकी के डीएम डॉक्टर आदर्श सिंह ने एसपी अनुराग वत्स की गैंगस्टर के तहत मिली रिपोर्ट पर कुर्की का आदेश जारी किया है।

39 लाख के वाहन होंगे कुर्क
वहीं बाराबंकी एआरटीओ प्रशासन पंकज सिंह ने बताया कि डीएम ने आदेश में कहा है कि मोहम्मद जाफरी उर्फ शाहिद, उनके भाई सैयद अली मोहम्मद जाफरी, सैयद नामवर अस्करी जाफरी और जेबा जाफरी के नाम दर्ज टोयोटा टाटा सफारी कार, बजाज बाइक, इंडीवर फोर्ड, मारुति सुजुकी स्विफ्ट वीडीआई कार को कुर्क कर कब्जे में लिए जाने की जिम्मेदारी बाराबंकी के एआरटीओ और पुलिस विभाग को दी है। आदेश के मुताबिक कार्रवाई की जाएगी।

मुख्तार करता था एंबुलेंस का प्रयोग
आपको बता दें कि माफिया मुख्तार अंसारी जब पंजाब जेल में बंद था, तो इस दौरान वह कोर्ट जाने के लिए निजी एम्बुलेंस का प्रयोग करता था। यह एम्‍बुलेंस बाराबंकी एआरटीओ में 21 मार्च, 2013 में पंजीकृत कराई गई थी। पंजीकरण में बाराबंकी के मोहल्ला रफीनगर के मकान नंबर 56 की आईडी लगाई गई थी। जांच में वहां पर कोई मकान नहीं था। इसके बाद पुलिस ने एआरटीओ पंकज सिंह की तहरीर पर दो दिन बाद मऊ के श्याम संजीवनी अस्पताल की संचालिका डॉ. अलका राय पर जालसाजी का मुकदमा लिखा था।