Tuesday , February 7 2023

वर्चुअल रैली में संजय सिंह ने योगी सरकार पर साधा निशाना, लोगों से AAP को जिताने की अपील

लखनऊ. आप के प्रदेश प्रभारी संजय सिंह ने केजरीवाल गारंटी रैली को वर्चुअल संबोधि‍त किया जिसे 1 लाख 25 हजार से ज्यादा लोगों को संबोधित किया। आम आदमी पार्टी टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल कर वर्चुअल रैली के माध्यम से जनता तक दिल्ली के केजरीवाल मॉडल को पहुंचाने में सफल रही। फेसबुक, यूट्यूब, ट्यूटर और इंस्टाग्राम के माध्यम से जुड़े लाखों लोगों तक संजय सिंह ने केजरीवाल गारंटी को पहुंचाने का काम किया। संजय सिंह ने वर्चुअल रैली के माध्यम से योगी सरकार पर जमकर निशाना साधा उन्होंने कहा 75 साल में तमाम सरकारों ने यूपी को सिर्फ छलने का काम किया। वो धनकुबेर बनते गए और हम पीछे होते गए। फैसला आपके हाथ में है कि हमको इसी सड़ी-गली व्‍यवस्‍था में रहना है या फिर उत्‍तर प्रदेश को उत्‍तम प्रदेश बनाना है। 2022 का चुनाव आपके बच्चों और परिवार के भविष्य को बदलेगा। उन्होंने कहा कि यूपी के लोगों के लिए केजरीवाल की गारण्टी फ्री बिजली, फ्री शिक्षा, फ्री इलाज, हर बेरोज़गार को 5 हज़ार/माह, हर महिला को 1 हज़ार/माह है।

संजय सिंह ने किसानों की समस्‍याओं को उठाकर भाजपा को घेरना शुरू किया। एक रुपये-दो रुपये कर्जमाफी की बात उठाकर इसे किसानों का अपमान बताया। तीन काले कानूनों का जिक्र करते हुए भारतीय जनता पार्टी की सरकार पर निशाना साधा कहा कि खाद-बीज से लेकर अपनी फसल बेचने के लिए परेशान किसानों पर सरकार लाठियां बरसाती है। शिक्षामित्रों और बेरोजगार युवाओं के मुद्दों पर सरकार को घेरा। टीईटी, दारोगा भर्ती, शिक्षक भर्ती आदि के पेपर लीक प्रकरण का हवाला देते हुए उन्‍होंने योगी सरकार को पेपरलीक सरकार बताया। कहा-यूपी में नौकरियां तो हैं, लेकिन सरकार की नीयत रोजगार देने की नहीं है। कानून व्‍यवस्‍था का मामला उठाकर उन्‍होंने मनीष गुप्‍ता, इंद्रकांत त्र‍िपाठी, अरुण गुप्‍ता, संजीत यादव के साथ हुई घटनाएं गिनाईं।