Monday , January 30 2023

ऐसी गाड़ी चलाने वालों पर होगा 10 हजार का जुर्माना और छह महीने की जेल, 3 महीने के लिए DL भी होगा निरस्त

लखनऊ. RTO Delhi: देश की राजधानी दिल्ली की सड़कों पर अब बिना पीयूसी (Pollution under Control- PUC) के गाड़ियां नहीं दौड़ पाएंगी। दिल्ली में बिना वैध प्रदूषण सर्टिफिकेट के गाड़ी चलाने वाले वाहन मालिकों की अब मश्किलें बढ़ने जा रही हैं। दरअसल दिल्ली सरकार का परिवहन विभाग उन वाहन मालिकों को नोटिस भेजने की शुरूआत करने जा रहा है, जिनके पास वैध पीयूसी प्रमाण पत्र (Valid PUC Certificate) नहीं हैं। जानकारी के मुताबिक जिन वाहन चालकों के पास पीयूसी प्रमाण पत्र नहीं होगा उन्हें 10 हजार का जुर्माना या छह महीने की सजा निर्धारित है। या फिर चालान और सजा दोनों भी हो सकते हैं। इसके अलावा 3 महीने तक के लिए ड्राइविंग लाइसेंस भी निरस्त किया जा सकता है।

दिल्ली सरकार का बड़ा कदम

आपको बता दें कि दिल्ली में वायु प्रदूषण की समस्या से निपटने के लिए केजरीवाल सरकार कई बड़े कदम उठा रही है। दिल्ली की सड़कों पर रेड लाइट ऑन, गाडी ऑफ कैंपेन के अलावा एंटी डस्‍ट कैंपेन और एंटी ओपन बर्निंग कैंपेन आदि पर्यावरण विभाग की ओर से चलाए जाते रहे हैं। ऐसे में परिवहन विभाग भी अपने स्‍तर पर वायु प्रदूषण को कम करने की कोशिस करता रहा है। इसी दिशा में अब पॉल्‍यूशन अंडर कंट्रोल (पीयूसी) के बिना दौड़ रहे वाहनों पर लगाम कसने की तैयारी की जा रही है।

बिना पीयूसी के दौड़ रहे कई वाहन

दरअसल दिल्ली के परिवहन विभाग के अधिकारियों के मुताबिक दिल्ली की सड़कों पर बड़ी संख्‍या में बिना पीयूसी के वाहन दौड़ रहे हैं। इन वाहनों से निकलने वाले धुएं से शहर की आबोहवा काफी खराब हो रही है। करीब 17,24,891 वाहनों की पॉल्यूशन अंडर कंट्रोल (PUC) सर्टिफिकेट की वैलिडिटी खत्म हो चुकी है। इन सभी वाहनों के खिलाफ परिवहन विभाग कार्रवाई तेज करने की तैयारी में है। अधिकारियों का साफ कहना है कि बिना पीयूसीसी वाले वाहनों के खिलाफ कार्रवाई होगी। जिसमें 10 हजार का जुर्माना या छह महीने की सजा निर्धारित है। या फिर चालान और सजा दोनों भी हो सकते हैं। इसके अलावा 3 महीने तक के लिए ड्राइविंग लाइसेंस भी निरस्त किया जा सकता है।